कहानी 14 साल के जग्गा गुर्जर की जिससे पूरा लाहौर थर-थर कांपता था

0
219
कहानी 14 साल के जगा गुर्जर की जिससे पूरा लाहौर थर-थर कांपता था

अपनी नापाक हरकतों से बाज नहीं आने वाला पाकिस्तान आतंकी गतिविधियों से हमेशा चर्चा में रहता है. पाकिस्तान से जुड़ी अनेकों कहानियां हमने सुनी है. एक ऐसा ही क़िस्सा हम आपके साथ शेयर करने जा रहे हैं, जो न सिर्फ़ दिलचस्प है बल्कि काफ़ी फ़िल्मी भी है. लेकिन, इसके लिए हमें पाकिस्तानी इतिहास के पन्नों को तह-बाई-तह पलटने होंगे. इतिहास के पन्नों की बात की जाए तो पाकिस्तान में एक ऐसा भी शख़्स था, जिसके नाम से कभी पूरा लाहौर थर-थर कांप उठता था और इसके नाम से कई बड़े अवैध टैक्स वसूला जाता था. कहानी 14 साल के जग्गा गुर्जर की जिससे पूरा लाहौर थर-थर कांपता था.

कौन था जग्गा गुर्जर ?

जग्गा गुर्जर महज़ एक नाम ही नहीं बल्कि एक ऐसी शख्सियत था जिसकी पहचान से लाहौर खौफ खाता था. कहते हैं कि पाकिस्तान के इतिहास में एक समय ऐसा भी आया जब इस नाम का पाकिस्तान के अन्य इलाक़ों के साथ पूरे लाहौर में दबदबा था. वहां के व्यापारी और लोगों को डराने के लिए बस जग्गा का नाम ही काफ़ी होता था.

Jagga Gurjar with Gun
Jagga Gurjar with Gun

लाहौर में उसके नाम का इस कदर खौफ था कि लोग ‘जग्गा टैक्स’ देते थे. आए दिन पाकिस्तान के अखबारों में उसकी खबरें छाई रहती थीं. उसके ऊपर पंजाबी में कई फिल्में बनाई गईं लेकिन, सवाल ये कि जिससे पूरे लाहौर कांप उठता हो वो उसे क्या पुलिस-प्रशासन भी लगातार बचाया करती थी? सवाल ये भी कि क्या जग्गा पूरे लौहार में अकेला ऐसा बेखौफ, कुख्यात इंसान था की उससे लोग इस कदर भय खाते थे?

कहानी 14 साल के जगा गुर्जर की जिससे पूरा लाहौर थर-थर कांपता था Click To Tweet

एक न्यूज एजेंसी बीबीसी के मुताबिक, ये बात 1960 के दशक की है. जब लाहौर के इस्लामिया पार्क इलाके में मोहम्मद शरीफ नाम का शख्स रहता था. यही शरीफ बाद में चलकर खूंखार अपराधी जग्गा गुर्जर के नाम से मशहूर हुआ. जग्गा गुर्जर का असली नाम मोहम्मद शरीफ़ बताया जाता है. कहते हैं उसके जीवन में ऐसी घटना घटी जिसने उसे बदमाश बनने के लिए मजबूर कर दिया था.

पहले वो भी एक शराफ़त की ज़िंदगी बसर कर रहा था. लेकिन, जानकारी के अनुसार, कभी किसी मेले में जग्गा के भाई माखन गुर्जर का उस समय के कुख़्यात बदमाश ‘अच्छा शोकरवाला’ से झगड़ा हो गया था. जिसके बाद 1954 में माखन गुर्जर की हत्या कर दी गई थी. भाई की मौत ने जग्गा गुर्जर को कुछ यूं झकझोरा की वो लगातार कुख्यात बदमाशों के सांठ-गांठ में रहने लगा.

14 वर्ष  की उम्र में जेल क्यों जाना पड़ा ?

उस समय जग्गा महज़ 14 वर्ष का था. कहते हैं कि भाई की हत्या के ठीक 8 दिन बाद जग्गा ने अपने भाई के क़ातिल को मौत के घाट उतार दिया था. जिसके बाद लगातार हत्या के आरोप में जग्गा को जेल जाना पड़ा. जेल में पता चला कि जग्गा के भाई के मौत के पीछे कोई और भी था. उसके भाई माखन गुर्जर का असली क़ातिल ‘अच्छा शोकरवाला’ है.

शोकरवाला ने ही किसी दूसरे बदमाश के हाथों उसके भाई को मरवाया था. शोकरवाला को लगातार हत्या के फिराक में जग्गा जेल से ही कई बड़ी योजना बना डाली थी. जग्गा के आदमियों ने दो बार शोकरवाला पर हमले किये, जिसमें शोकरवाला गंभीर रूप से घायल हुआ और उसके दो आदमी मारे गए थे. हालांकि, वो जग्गा के हाथों मारा गया कि नहीं, ये आज भी सवालों के घेरे में है.

जगा गुर्जर जिससे पूरा लाहौर थर-थर कांपता था और देता था 'जग्गा टैक्स' Click To Tweet

कहते हैं कि जेल से रिहा होने के बाद जग्गा ने अपना एक गिरोह बनाया और जबरन लाहौर के कसाई समुदाय से टैक्स वसूलना शुरू कर दिया. कहा तो ये भी जाता है कि वो एक बकरे की ख़रीद पर एक रुपए वसूला करता था. लोगों में जग्गा के नाम का इतना खौफ़ था कि कोई भी उसे टैक्स देने से मना नहीं करता था. बाद में इस जबरन वसूली को ‘जग्गा टैक्स’ नाम दे दिया गया.

अवैध टैक्स वसूली की वजह क्या थी ?

मीडिया रिपोर्टस के मुताबिक, उसकी कुछ बातें उसे बाकी बदमाशों से अलग बनाती थी. जैसे, वो जो पैसा वसूला करता था उसका एक हिस्सा वो ग़रीबों और विधवाओं में बांट दिया करता था. इस तरह से लोगों में अपनी एक अलग पहचान बनाई थी. कुछ लोग इसके बेखौफ वसूली से परेशान रहते थे तो वहीं कुछ लोग इसका समर्थन भी किया करते थे. लोगों से अवैध टैक्स वसूली ने उसे एक विख्यात बदमाशों में शुमार किया.

पुलिस ने जग्गा को मौत के घाट क्यों उतारा ?

साल 1968 का था, जब जग्गा गुर्जर को एक पुलिस मुठभेड़ में मारा गया. दरअसल, वो अपनी मां से मिलने गया था. इसी बीच पुलिस की एक टुकड़ी ने जग्गा और उसके एक साथी को घेर लिया और जवाबी फ़ायरिंग में जग्गा और उसका साथी मारा गया. कई पुलिसवाले घायल हुए. जग्गा की मरने की खबर पाकिस्तान के हर अखबार के पहले पन्ने पर थी. उसकी लाश को देखने के लिए हजारों की भीड़ उमड़ी. कई किलोमीटर लंबा जाम भी लगा. उसके बाद उसके जीवन पर कई फिल्में भी बनाई गई. तो यह थी कहानी 14 साल के जगा गुर्जर की जिससे पूरा लाहौर थर-थर कांपता था.

 

Author: Team The Rising India

Keywords: Jagga Gurjar, Pakistan, Acha Sokerwala, Jagga Tax

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here