झारखण्ड में बीजेपी का ‘ऑपरेशन लोटस’ फेल? हेमंत सरकार गिराने कि बात कबुली

0
183
झारखण्ड में बीजेपी का 'ऑपरेशन लोटस' फेल? हेमंत सरकार गिराने कि बात कबुली

झारखण्ड में ऑपरेशन लोटस और हेमंत सरकार को गिराने की साजिश रचने के आरोप में स्पेशल ब्रांच की टीम ने 24 जुलाई शनिवार तीन लोगों को गिरफ्तार किया. दरअसल, स्पेशल ब्रांच की टीम ने रांची के एक होटल में छापेमारी की. जिसके बाद भारी मात्रा में पैसे बरामद किए और तीन लोगों को गिरफ्तार भी किया. झारखण्ड में बीजेपी का ‘ऑपरेशन लोटस’ हुआ फेल? हेमंत सरकार गिराने कि बात कबुली?

गिरफ्तार तीनों लोगों पर पर आईपीसी की धारा 419, 420, 124-A, 120-B, 34 और पीआर एक्ट की धारा 171 के साथ पीसी एक्ट की धारा 8 / 9 लगाया गया है. मिली जानकारी के अनुसार तीन लोग सरकार के खिलाफ साजिश करते हुए गिरफ्तार किये गये हैं. वहीं, इनके नाम अमित सिंह, अभिषेक दुबे, और निवारण प्रसाद महतो बताया जा रहा है.

झारखण्ड में ऑपरेशन लोटस का क्या हैं पूरा मामला ?

झारखंड के कोलेबिरा से कांग्रेस विधायक नमन विक्सल कोंगारी ने बड़ा आरोप लगाया है. उन्होंने कहा, कि कुछ अज्ञात लोगों ने उनसे कई बार संपर्क किया और झारखंड की हेमंत सोरेन सरकार को गिराने के लिए 1 करोड़ रुपये और मंत्री पद की पेशकश की. दरअसल, ये आरोप ऐसे समय में लगा है जब झारखंड पुलिस ने हेमंत सरकार गिराने की कथित साजिश के आरोप में तीन लोगों को गिरफ्तार किया है.

झारखण्ड में बीजेपी का 'ऑपरेशन लोटस' हुआ फेल? हेमंत सरकार गिराने कि बात कबुली? Click To Tweet

इन गिरफ्तारियों के बाद से ही झारखंड की सियासत में फिलहाल हलचल मची हुई है और अब विधायक को खरीदने का आरोप-प्रत्यारोप का दौर भी शुरू हो गया है. इंडियन एक्स्प्रेस से बात करते हुए विधायक नमन विक्सल कोंगारी ने कहा, कि “तीन लोगों ने मेरी पार्टी के कार्यकर्ताओं के माध्यम से मुझसे संपर्क किया था कि वे कुछ कंपनियों के लिए काम करते हैं.

हालांकि, मेरे मना करने के बावजूद वो नहीं माने और एक बार फिर मुझे 1 करोड़ रुपये से अधिक नकद की पेशकश की. मैंने तुरंत कांग्रेस विधायक दल के नेता आलमगीर आलम और कांग्रेस झारखंड प्रभारी आर पी एन सिंह को सूचित किया. मैंने इसके बारे में मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन जी को भी जानकारी दी थी. हालांकि, अभी इस मामले पर हेमंत सोरेन की तरफ से किसी तरह का बयान सामने नहीं आया है.”

आरोपियों ने कबूला ऑपरेशन लोटस का आरोप 

झारखण्ड में बीजेपी का ‘ऑपरेशन लोटस’ हुआ फेल? हेमंत सरकार गिराने कि बात कबुली? गिरफ़्तार लोगों में से एक शख़्स विधानसभा चुनाव लड़ चुका है. पुलिस ने बताया है, कि इन लोगों ने सरकार के खिलाफ साजिश में शामिल होने की बात स्वीकार कर ली है. इस मामले में रांची के कोतवाली थाना में एक रिपोर्ट दर्ज कराई गई है. जो कि संपूर्ण रूप से इसकी जांच चल रही है..

तभी राज्य में सियासी पारा चढ़ता नज़र आ रहा है. यहां सत्तारूढ़ झारखंड मुक्ति मोर्चा (JMM), उसकी सहयोगी कांग्रेस और राष्ट्रीय जनता दल (RJD) ने राज्य में विपक्ष की भूमिका निभा रही भारतीय जनता पार्टी (BJP) पर यह साजिश रचने का आरोप लगाया है. तो वहीं, बीजेपी इस पूरे मामले को फैब्रिकेटेड बता रही है. इस बीच झारखंड पुलिस का दावा है कि गिरफ़्तार लोगों के ख़िलाफ़ पार्याप्त साक्ष्य हैं. रांची पुलिस ने इस संबंध में एक बयान जारी किया है. पुलिस ने अपने बयान में कहा, “हमने कांग्रेस विधायक कुमार जयमंगल उर्फ अनूप सिंह की लिखित शिकायत पर रिपोर्ट दर्ज कर कार्रवाई की है.”

हेमंत सरकार पर वसूली का आरोप

इस मामले में कई महत्वपूर्ण कड़ी सामने आ रही है, जो बेहद चौंकाने वाला है. भारतीय जनता पार्टी के विधायक दल के नेता और पूर्व मुख्यमंत्री बाबूलाल मरांडी ने हेमन्त सरकार पर बड़ा हमला किया. रांची में पार्टी कार्यालय में मीडिया से मुखातिब हुए और कहा, कि हेमंत सरकार पिछले कुछ समय से कोयला, बालू, दारू, आयरन और पत्थर से पैसे की वसूली में लगी हुई. जिससे अवैध रूप से व्यवसायियों को हड़का पैसे कमना चाहती है.

इससे पहले भी प्रदेश के 22 जगहों पर सरकार के इशारे पर छापेमारी की गई थी. जिससे करोबारी से लेकर आम जनता परेशान. वहीं,उन्होंने सवाल उठाते हुए कहा कि आखिर सूबे में हो रही छापेमारी किसके इशारे और किस सूचना पर हो रही है. सरकार को साफ करना चाहिए. हालांकि, अब विपक्ष के तरफ से लगातार आरोप-प्रत्यारोप का दौर शुरू हो गया है. लगातार बीजेपी हेमंत सरकार को घेरती नज़र आ रही है.

‘SIT कि मांग

इन सबके बीच, मामला तुल पकड़ता जा रहा है. बीजेपी के पूर्व मुख्यमंत्री बाबूलाल मरांडी ने SIT गठन कर जांच कराने की मांग की है. उन्होंने राज्य सरकार हाई कोर्ट के सिटिंग जज की अध्यक्षता में इस गठन की मांग की. उन्होंने कहा है कि दूध का दूध और पानी का पानी होना चाहिए. साथ ही उन्होंने गिरफ्तार तीन लोगों को अविलंब रिहा करने की भी मांग की है.

झारखण्ड में बीजेपी का 'ऑपरेशन लोटस' हुआ फेल? हेमंत सरकार गिराने कि बात कबुली? Click To Tweet

मरांड़ी ने कड़ी शब्दों में निंदा करते हुए कहा कि इस प्रकार की हरकत बंद करें. सरकार का अगर यही हाल रहा तो भारतीय जनता पार्टी चुप नहीं बैठेगी. सरकार मामले में सब कुछ सार्वजनिक करे.

कांग्रेस ओर RJD ने बीजेपी पर लगाया गंभीर आरोप

झारखंड सरकार में गठबंधित कांग्रेस और आरजेडी भी इस मुद्दे पर जेएमएम के साथ खड़ी नजर आ रही है. दोनों पार्टियों के नेताओं ने इसे बीजेपी की साजिश क़रार दिया है. झारखंड कांग्रेस के कार्यकारी अध्यक्ष राजेश ठाकुर ने मीडिया में बात करते हुए कहा कि भारतीय जनता पार्टी पूरे देश मे जनता द्वारा चुनी गई सरकारों को अस्थिर करने प्रयास करती नज़र आ रही है. लेकिन, झारखंड में उनके मंसूबा पूरा होने वाला नहीं हैं.

वहीं आरजेडी नेता और झारखंड सरकार के मंत्री सत्यानंद भोक्ता ने कहा कि हमारे सहयोगी विधायक बिकाऊ नहीं है, इसलिए बीजेपी ऐसी साजिश में नाकाम होगी. झारखण्ड में ऑपरेशन लोटस फैल हुआ है और क्या आगे भी होगा.

Author: Team The Rising India

Keywords: Jharkhand gov, JMM, Operation Lotus

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here