भारत में बनी ‘एवरेस्ट’ ऊंची नई सड़क से चीन क्यूँ हैं बेचैन?

4
158
भारत में बनी एवरेस्ट ऊंची सड़क से चीन क्यूँ हैं बेचैन

भारत ने लद्दाख में ‘एवरेस्ट’ से ऊंची सड़क बनाकर तोड़ा बोलिविया का रिकार्ड. दरअसल, बॉर्डर रोड्स ऑर्गनाइजेशन (बीआरओ) ने यहां पर दुनिया की सबसे ऊंची सड़क बनाने में कामयाबी हासिल की है. युद्ध के वक्त अब चीन को मुंहतोड़ जवाब दिया जा सकेगा और दूसरा दुनिया में सबसे ऊंची सडक़ बनाने का गौरव हुआ. बीआरओ (BRO) ने यह सडक़ पूर्वी लद्दाख के उमलिंगला पास में समुद्र तल से करीब 19 हजार 300 फीट की ऊंचाई पर बनाई है. भारत में बनी ‘एवरेस्ट’ ऊंची नई सड़क से चीन क्यूँ हैं बेचैन?

तमाम चुनौतियों के बावजूद रिकॉर्ड भारत के नाम

इसके साथ ही भारत ने बोलिविया का रिकॉर्ड तोड़ दिया है. आपको बता दें कि दुनिया की सबसे ऊंची सड़क का रिकॉर्ड बोलिविया के नाम था. जो कि यहां उतुरुंसू ज्वालामुखी के पास स्थित समुद्र तल से 18,953 फीट की ऊंचाई पर है. ये सड़क 52 किलोमीटर लंबी है और उमलिंगला पास के जरिए पूर्वी लद्दाख के चुमार सेक्टर को जोड़ती है.

भारत ने लद्दाख में 'एवेरेस्सट' ऊंची सड़क बनाकर तोड़ा बोलिविया का रिकार्ड, चीन बेचैन Click To Tweet

यह सड़क स्थानीय लोगों के लिए काफी लाभदायक होगी. हालांकि, यह चिसुम्ले और डेमचॉक को लेह से जोड़ने के लिए वैकल्पिक रास्ता देती है. जो की इस सड़क के बनने के बाद लद्दाख की सामाजिक-आर्थिक स्थिति में सुधार होगा और यहां पर पर्यटन को भी बढ़ावा मिलेगा.

माउंट एवरेस्ट के बेस केंप से भी ज्यादा है ऊंचाई

रक्षा मंत्रालय ने बताया कि बीआरओ ने यह उपलब्धि खराब मौसम से जूझते हुए अपनी संकल्पशक्ति के बल पर हासिल किया है. अगर ऊंचाई की बात करें तो यह सड़क नेपाल में माउंट एवरेस्ट के बेस कैंप से भी ज्यादा ऊंचाई पर है.

Border Roads Organisation
Border Roads Organisation

नेपाल में माउंट एवरेस्ट का दक्षिणी बेस कैंप 17,598 फीट की ऊंचाई पर स्थित है. जcबकि, तिब्बत में स्थित उत्तरी बेस कैंप 16,900 फीट की ऊंचाई पर है. वहीं, सियाचिन ग्लेशियर से भी यह काफी ऊंचा है. जो कि, 17,700 फीट की ऊंचाई पर है. इसके अलावा लेह में स्थित खारदुंग ला पास की बात करें तो उसकी भी ऊंचाई केवल 17,582 फीट ही है. जबकि इस सड़क की ऊंचाई 19,300 फीट है.

तोड़े सारे रिकॉर्ड 

इस सड़क ने सारे रिकॉर्ड तोड़ अपने नाम कर लिया है. दरअसल, रूस में स्थित यूरोप की सबसे ऊंची सड़क को भी छोटी कर दी है. उसकी ऊंचाई 13,267 फीट है. तो वहीं, माउंट एल्ब्रस से होकर निकलने वाली इस सड़क पर हर वक्त धूल रहती है. जहां केवल विशेष रूप से तैयार वाहन ही ड्राइव कर सकते हैं. स्पेन की वेलेटा पीक भी महाद्वीप की सबसे ऊंची पक्की सड़कों में से एक है. हालांकि, वह भी 11,135 फीट पर और नए उमलिंगला दर्रे से काफी नीचे है. दक्षिण अमेरिका में कई उच्च ऊंचाई वाली सड़कें भी हैं.

चीन क्यूँ हैं बेचैन

हमारे सीमावर्ती इलाकों या फिर जिन देशों के साथ हमारे मैत्रीपूर्ण संबंध हैं, दोनों ही जगहों पर बॉर्डर रोड ऑर्गनाइजेशन यानी बीआरओ को सड़क निर्माण की जिम्मेदारी दी जाती है. बीआरओ न केवल सड़क निर्माण का काम करता है बल्कि उसके रखरखाव की जिम्मेदारी भी उसी की है. भारत में बनी ‘एवरेस्ट’ ऊंची नई सड़क से चीन क्यूँ हैं बेचैन?

सबसे ऊँची सड़क बना कर भारत गदगद है, वहीँ चीन बेचैन है. यह सड़क युद्ध के वक्त काफी मददगार साबित होगा. हमारे भारतीय जवानों में नई उत्साह के साथ साथ चीन और किसी अन्य आतंकी गतिविधि चलाने वालों को मुहतोड़ जवाब देने में कारगर होंगी.

पर्यटन को मिलेगा बढ़ावा

रक्षा मंत्रालय के मुताबिक इस सड़क को बनाने में बीआरओ को कई चुनौतियों का सामना करना पड़ा. इस दौरान खराब मौसम से भी लगातार जूझना पड़ा था. ठंड के मौसम में यहां पर तापमान माइनस 40 डिग्री तक नीचे चला जाता था. तो वहीं, सामान्य जगहों पर भी ऑक्सीजन लेवल में 50 फीसदी की गिरावट आ जाती थी. फिर भी इस ऊंचाई वाले मार्ग को बाधित नहीं किया गया. जिसका नतीजा आज सबके सामने है. बता दें कि इस सड़क बनाने में लगातार काम चलता रहा चाहे वो किसी तरह की परेशानी क्यों न आती हो. लेकिन, किसी वजह से बाधित नहीं हुई. 

भारत ने लद्दाख में 'एवेरेस्सट' ऊंची सड़क बनाकर तोड़ा बोलिविया का रिकार्ड, चीन बेचैन Click To Tweet

 

Author: Team The Rising India

Keywords: Worlds highest road in Ladakh, China worried, BRO

4 COMMENTS

  1. […] राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली का दामन एक बार फिर से दागदार है. राजधानी में फिर से दरिंगदी हुई है. 1 अगस्त को नौ साल की बच्ची के साथ घिनौना अपराध हुआ. अपराध ऐसा है कि दिल्ली के दामन को फिर से दागदार कर दिया है. मासूम के साथ रेप के बाद बच्ची को मार डाला गया. जब बच्ची मर गई तो सियासत के सुरमा सवेंदना का सिंढ़ी लगाकर चढ़ गए उसी मुद्दे पर. दिल्ली में 9 साल की दलित मासूम से रेप, हत्या कर जलाया शव, आखिर..कब तक बेटियां होंगी दरिंदगी की शिकार? […]

  2. […] “शेयर मार्केट” ये नाम हमने हमारे आस पड़ोस, दोस्तों रिश्तेदारों से जरूर सुना है. लेकिन क्या हम जानते हैं की यह होता क्या है और यह मार्केट काम कैसे करता है? “शेयर मार्केट” हुनर या जुआ? चलिए आज हम शेयर मार्केट से कुछ परिचित होते हैं. […]

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here