हिन्दुओं पर हुई हिंसा का ‘मास्टरमाइंड’ आया सामने, जल्द होगा गिरफ्तार

0
66

बीते कुछ दिनों में बांग्लादेश में हो रहे दंगे से बांग्लादेश ही नहीं बल्कि भारत भी बुरी तरह प्रभावित है. यह हिंसा दो सम्प्रदायों के साथ दो देशों के बीच भी चिंता का विषय बनी हुई है. इस तनावपूर्ण माहौल को शांत करने बांग्लादेशी प्रधान मंत्री शेख हसीना ने राष्ट्रीय पुलिस को आरोपियों को खोजने के कड़े निर्देश दिए हैं. लगभग एक हफ़्ते की जांच पड़ताल के बाद बांग्लादेशी पुलिस ने आरोपी की सिनाख्त कर ली है. हिन्दुओं पर हुई हिंसा का ‘मास्टरमाइंड’ आया सामने, जल्द होगा गिरफ्तार. जानते हैं कि आरोपी कौन है और इसकी पहचान कैसे हुई.

अपराधी कौन?

बांग्लादेश पुलिस ने हिंसा की तब्दीश पर अपडेट देते हुए बताया की उन्होंने उस व्यक्ति की पहचान कर ली है जिसने कॉमिला के पंडाल में हिन्दू देवता के पैरो (हनुमान जी की गोद ) पर कुरान रख कर हिन्दुओ द्वारा इस्लाम का अपमान होने का भ्रम फैलाया. जिसके परिणाम स्वरुप देश में सम्प्रदायिक दंगे भड़के, हिन्दुओं की हत्या हुई. घर और मंदिर जले और दोनों संप्रदायों के लोगो में अविश्वास की भावना भी पनपी. हिन्दुओं पर हुई हिंसा का ‘मास्टरमाइंड’ आया सामने, जल्द होगा गिरफ्तार.

Bangladesh Violence against Hindu, many to be arrested
Bangladesh Violence against Hindu, many to be arrested

पुलिस के अनुसार आरोपी की पहचान 35 वर्षीय इक़बाल हुसैन के नाम से की गयी है जो कॉमिला शहर के सूजानगर छेत्र का निवासी बताया जा रहा है. आरोपी के परिवार ने पुलिस द्वारा की गयी पूछताछ में बताया कि इक़बाल एक ड्रग एडिक्ट है. उसकी मानसिक स्थिति ठीक नहीं है. संभवतः इस बात का लाभ उठा कर इक़बाल का इस्तेमाल करके साम्प्रदायिक दंगे भड़काने की कोशिश की गयी. पिछले हफ्ते पुलिस ने हिंसा भड़काने के लिए कई लोगो को हिरासत में लिया. उनमे से 4 आरोपियों का कनेक्शन इक़बाल के साथ सामने आया है. 

CCTV से हुई तबदीश

कॉमिला थाना पुलिस अधीक्षक फ़ारूक़ अहमद ने बताया की 13 अक्टूबर को इक़बाल ननुआ दीघिर पर पूजा मंडप में कुरान की प्रति रखने के बाद लोगो के बिना ध्यान में आये हनुमान संघ के लोगो में शामिल होकर मंडप से बाहर आता है. यह पूरी घटना उसी पूजा पंडाल के नज़दीकी CCTV कमरे में कैद है जिसकी मदद से आरोपी की दब्दीश हो पाई है. CCTV कैमरे में पंडाल में प्रवेश करते समय इक़बाल के हाथो में कुरान दिख रही है. जबकि पंडाल से निकलते वक़्त हनुमान जी की गदा देखी जा सकती है. 

Iqbal Hossain 1
pic credit : banglamirrornews

सरकार की चेतावनी

देश की प्रधानी मंत्री शेख हसीना ने लोगो से सचेत रहने की सलाह देते हुएकहा है “ लोगों को सोशल मीडिया में वायरल खबरों पर यकीन करने से पहले उसका फैक्ट चेक करना चाहिए” 

RAB डायरेक्टर खांडाकर अल मोईन ने अपने स्टेटमेंट में कहा “ वे वीडियो सामग्री फैला रहे हैं। इस दौरान इन सभी पेजों के एडमिन की पहचान कर ली गई है। इन्हें जानबूझकर लाइक और शेयर करने वालों की भी पहचान की जा रही है और जांच जारी है”

हिंसा के विरोध में 700 इस्कॉन टेम्पल

इस हिंसा का विरोध भारत में ही नहीं बल्कि पूरी दुनिया में हो रहा है. 700 से भी अधिक इस्कॉन टेम्पल्स के कार्यकर्ताओ ने शनिवार को शांति पूर्वक ढंग से प्रदर्शन किया और हिंसा में मरने वाले लोगो के लिए कैंडल लाइट्स जलाकर अपनी सांत्वना प्रकट की. आपको  बता दे  की हिंसाकiरियो का गुस्सा बांग्लादेश के इस्कॉन टेंपल पर भी फूटा था जिससे कई लोग घायल और एक श्रद्धालु की मृत्यु भी हो गयी थी. 

इंडिया टुडे को दिए अपने इंटरव्यू में इस्कॉन के कार्यकर्ता राधाराम दास ने कहा “टोक्यो से टोरंटो तक, हम बांग्लादेश में जो कुछ भी हुआ उसके विरोध में प्रार्थना और प्रदर्शन कर रहे हैं. हमें उम्मीद है कि बांग्लादेशी सरकार दोषियों पर सख्त कदम उठाएगी. जो हुआ उससे हम निराश हैं.

Author: Team The Rising India

Keywords: Attacks on Hindus, Iskcon temple, Sheikh Hasina

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here