कोरोना वैक्सीन फेल, चीन अंडर लॉकडाउन-2

0
121
कोरोना वैक्सीन फेल, चीन अंडर लॉकडाउन!

कोरोना वैक्सीन फेल, चीन अंडर लॉकडाउन-2 भारत के साथ साथ बाकी दुनिया खुल रही है. वायरस के साथ जीने के तरीके खोजने की कोशिश कर रही है. वहीं चीन ने एक शून्य-कोविद दृष्टिकोण बनाए रखा है, जिसमें मुट्ठी भर मामलों में कठोर स्थानीय लॉकडाउन देखा गया है. जानते हैं की चीन की सिटी अंडर लॉकडाउन क्यू है.

कोरोना वैक्सीन फेल, चीन अंडर लॉकडाउन-2 Click To Tweet

भारत समेत कई देशो में कोरोना वायरस के हज़ारो केसेस रोज़ाना आने के बाद भी जनता और सरकार का कार्य सुचारु रूप से हो रहा है. वही कोरोना वायरस के केवल 43 केसेस से चिंतित चीन ने लान्झू में पूरी तरह से लॉक डाउन लगा दिया है. यह शहर चीन के सबसे बड़े शहरों में से है जिसकी जनसंख्या 40 लाख से भी अधिक है. 

कोरोना वैक्सीन फेल!

भारत में हालही में 100 करोड़ वैक्सीन लगने की ख़ुशी मनाई गयी और यह माना जा रहा है की भारत के वर्त्तमान में कोरोना के कम प्रकोप का एक प्रमुख कारण अत्यधिक संख्या में वक्सीनेटेड होना भी है.

चीन में अब तक 250 करोड़ लोग वैक्सीन लगवा चुके हैं. विशेषज्ञों के विचार से चीन में सिनोवै और सिनोफार्म  द्वारा बनाई गयी चाइनीस वैक्सीन खतरनाक डेल्टा वर्शन पर ज्यादा प्रभावी नहीं हुई है. 

क्या है वर्तमान में आंकड़े

घंसू प्रान्त के लान्झू में मंगलवार को लगाया गए लॉक डाउन का निर्णय 43 कोरोना वायरस केसेस के रिपोर्ट के बाद लिया गया.  जिसमें 6 केसेस लान्झू के भी शामिल है. 17 अक्टूबर से चीन में 198 केसेस दर्ज़ किये गए हैं जिनमे से 39 केसेस लान्झू में दर्ज़ हैं. चीन में नवीनतम आंकड़ों में अत्यधिक संक्रामक डेल्टा संस्करण है.

सिटी अंडर लॉकडाउन

जिस लॉकडाउन लगाने का विचार करते ही भारत समेत अन्य देश इकनोमिक क्राइसिस की चिंता में डूब जाते है, महज 6  केसेस से लान्झू में कोरोना प्रकोप बढ़ने के भय से चीन ने पूरे शहर में ही मानो ताला बंदी कर दी है. घर से बाहर जाने पर पूरी तरह पाबंदी है. आवश्यक चीज़ो की डिलीवरी के अलावा सभी तरह की क्रियाकलापों पर रोक लगा दी गयी है.

lockdown in Lanzhou
लान्झू शहर में लॉकडाउन

स्वास्थ्य अधिकारियों ने चेतावनी दी है कि और अधिक संक्रमण सामने आ सकते हैं क्योंकि आने वाले दिनों में प्रकोप से लड़ने के लिए परीक्षण तेज कर दिया गया है, जिसे घरेलू पर्यटकों के एक समूह से जोड़ा गया है, उन्होंने शंघाई से कई अन्य प्रांतों की यात्रा की थी।

बीजिंग में भी सख्ती 

बीजिंग में पर्यटन स्थलों तक पहुंच सीमित कर दी गई है और प्रमुख लामा मंदिर को बंद कर दिया गया है, लोगों के फ्लाइट और होटल बुक कराने पर भी प्रतिबंध लगा दिया गया है। इसके अलावा लोगों को घर पर रहने की सलाह दी गयी है. अधिकारियों ने बीजिंग में 2022 शीतकालीन ओलंपिक के पहले केवल 100 दिनों में नवीनतम प्रकोप पर मुहर लगाने के लिए दृढ़ संकल्प किया है.

कई शहरों में टैक्सी, बस, ट्रेन की सेवाएं भी बंद कर दी गयी है. वर्त्तमान में चीन में कोरोना के बढ़ते प्रकोप के लिए कई बड़े अधिकारियों को जिम्मेदारी न निभा पाने के आरोप में उनके पदों से बर्खाश्त भी कर दिया गया है.  

चीन का कोरोना टॉर्चर 

कई न्यूज़ मीडिया सोर्सेस द्वारा कोरोना वायरस के बढ़ते प्रकोप के दौरान चीन के स्थाई लोगो पर वहाँ की सरकार का टार्चर दिखाया गया है. कोरोना केसेस के आंकड़े छुपाने से लेकर सरकार की खिलाफ आवाज़ उठाने पर सख्त कदम उठाये गए.

लोगो के “फ्रीडम ऑफ़ स्पीच” और इस के पोस्ट को डिलीट करना इनमे से से ही एक उदहारण है,  कोरोना वायरस से संक्रमित होने  पर घर से  निकलने पर जुर्माने और जेल जैसी सजाओ का ऐलान किया गया. 

Corona increase in China again ( Pic - LA Times )
Corona increase in China again ( Pic – LA Times )

आपको बता दे की लान्झू के अलावा दक्षिण मंगोलिआ, इनर मंगोलिआ, निंज़िया, गीज़ो में भी कोरोना अपने पैर फिर से पसार रहा है. जो चीन के लिए अत्यधिक चिंता का विषय है. यही स्थिति रही तो जैसे चीन की यह सिटी अंडर लॉकडाउन है उसी तरह ये बाकी बाकी शहरों में लॉक डाउन लगाए जा सकते हैं. 

कोरोना वैक्सीन फेल, चीन अंडर लॉकडाउन-2 Click To Tweet

हालात भारत के  भी कुछ अच्छे नहीं है, गुरुवार को आये ताज़ा आंकड़ों के मुताबिक़ भारत में पिछले 24 घंटो में 733 लोगो के अपनी जान गवाई, 16456 केसेस दर्ज हुए. जो की बुधवार को सामने आये 13451 और मंगलवार के 12428 केसेस से ज्यादा है.

अगर केसेस इसी तरह बढ़ते रहे तो  पहले से ही आर्थिक संकट से झूझ रहे भारत के लिए परिस्थितियां और भी चिंताजनक हो सकती हैं. 

Author: Team The Rising India

Keyword: Beijing, Lanzhou, Corona Virus, Vaccine failed, Covid in India, Lockdown in China

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here